गुजरात के Gir National Park में भारत के इकलौते एशियाई सिंहों से कराएगी मुलाकात जंगल सफारी

मानसून के खत्म होते ही देशभर के नेशनल पार्क आम जनता के लिए खुल जाते हैं और सफारियां शुरू हो जाती हैं। आइए आज हम एक ऐसे रोमांचक जंगल के बारे में जानते हैं जहां भारत के एकमात्र एशियाई सिंह पाए जाते हैं।

Gir National Park में मिलते हैं एशियाई सिंह

यह जंगल है – गुजरात में स्थित Gir National Park। यहां 2020 में की गई गणना के मुताबिक लगभग 674 एशियाई सिंह रहते हैं जो पूरी दुनिया में सिर्फ इसी जंगल में ही पाए जाते हैं।

सफारी के लिए सासन गिर पर पहुंचें

Gir National Park में सफारी का आनंद लेने के लिए सासन गिर नामक स्थान पर पहुंचना पड़ता है। यहां सफारी ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से बुक की जा सकती है। सफारी लगभग 3 घंटे की होती है और आपको कोई भी रूट दिया जा सकता है। प्रत्येक रूट पर सीमित जिप्सियां ही जा सकती हैं, इसलिए यहां अन्य नेशनल पार्कों की तरह जिप्सियों की भागदौड़ और भीड़ नहीं दिखेगी।

विविध प्रकार के जंगली जीव भी देखने को मिलेंगे

गिर का जंगल मुख्य रूप से शुष्क प्रकार का है और इसमें छोटी पहाड़ियां भी हैं। यहां कुछ नदियां भी हैं जो वन्य जीवों को पानी प्रदान करती हैं। इन नदियों पर कुछ बांध भी बनाए गए हैं, जिनसे वन्य जीवों को पानी मिलता है। जंगल में मुख्यतः टीक के पेड़ हैं और झाड़ियों की भी बहुतायत है।

Gir National Park

Image Source : https://girlion.gujarat.gov.in/GalleryPhoto.aspx

 सिंहों के अलावा भी यहां तेंदुए, भालू, चीते जैसे कई अन्य जानवर तथा विभिन्न प्रकार के पक्षी देखने को मिल जाएंगे।

देवलिया पार्क में आसानी से दिख जाते हैं सिंह

खुले जंगल में सिंह को देख पाना मुश्किल होता है। इसीलिए देवलिया सफारी पार्क की स्थापना की गई है जो Gir National Park से 10 किमी दूर है। यहां की बस सफारी में सिंहों को करीब से देखा जा सकता है। जंगल में सिंह के अलावा तेंदुआ, जंगल कैट, लकड़बग्घा, गीदड़, लोमड़ी, चीतल, सांभर, नीलगाय, जंगली सुअर, बंदर, लंगूर, नेवले, मगरमच्छ, कोबरा आदि अनगिनत तरह के जानवर रहते हैं। इनके अलावा यहां बर्डवाचिंग का भी बड़ा स्कोप है और यहां ईगल, उल्लू, मोर, कठफोड़वा, ओरियोल आदि पक्षी भी देखे जा सकते हैं।

Gir National Park

Image Source : https://girlion.gujarat.gov.in/GalleryPhoto.aspx

Also Check : भारत का यह गुप्त रहस्यमय राष्ट्रीय उद्यान जहां घूमने पर मिलेगा प्रकृति का वास्तविक आनंद !

पवित्र स्थल भी हैं जंगल के बीच में

Gir National Park के जंगल में कणकाई माता और बाणेज शिव मंदिर भी स्थित हैं, जिनके दर्शन भी सफारी के दौरान किए जा सकते हैं। सफारी में इन मंदिरों का रूट मिलता है तो आप सफारी के दौरान भी इनके दर्शन कर सकते हैं। और यदि आप अपनी गाड़ी से यहां तक जाना चाहते हैं तो भी आसानी से जा सकते हैं। कणकाई माता का रास्ता सताधार की तरफ से जाता है और बाणेज का रास्ता जामवाला व धारी की तरफ से जाता है। आप किसी भी तरफ से जब Gir National Park जंगल में प्रवेश करेंगे तो गेट पर आपकी आईडी के साथ रजिस्टर में एंट्री होगी और आपको हिदायत दी जाएगी कि आप कहीं भी गाड़ी नहीं रोकेंगे, क्योंकि वहां शेर भी हो सकता है। आप चाहें कणकाई जाएं या बाणेज, पूरा रास्ता अत्यधिक रोमांच से भरा होता है।

Video : Gujarat Tourism

दोस्तों, भारत के इस अनोखे जंगल में एशियाई सिंहों को देखने का अवसर अवश्य लें और रोमांचक सफारी का आनंद उठाएं!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *